उत्तर प्रदेश गोपालक डेयरी योजना – बैंक ऋण, सब्सिडी की पूरी जानकारी

0
90
up-gopalak-yojana

उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रदेश में रोजगार और पशुपालन को बढ़ावा देने के लिए उत्तर प्रदेश गोपालक डेयरी योजना की शुरुवात की है इसके तहत बेरोजगार युवाओ को पशु पालन के लिए बैंक द्वारा कम ब्याज दर पर लोन दिया जायेगा और दिए गए लोन पर उत्तर प्रदेश सरकार सब्सिडी भी प्रदान करेगी। उत्तर प्रदेश गोपालक डेयरी योजना की कुल लगत 9 लाख रूपए आंकी गई है जो की कुल 10 पशुपाल के लिए गौ साला बनाने से लेकर दुधारू पशु की खरीद तक है। और अपना दूध का ब्यापार बड़ा सकते है। ये उत्तर प्रदेश सरकार का बहुउदेशीय योजना है इसके तहत सरकार का लक्ष बेरोजगार युवा युवतियों को रोजगार दिलाने के साथ साथ गोरक्षा और पशुपालन को बढ़ावा देना है जिससे की दूध की कमी को दूर किया जा सके और मिलवटी दूध और दूध से बने सामन पर रोक लगा सके।

उत्तर प्रदेश गोपालक डेयरी योजना सपा सरकार द्वारा शुरू की गई कामधेनु योजना का ही विकशित रूप है इस से पहले सपा सरकार द्वारा शुरू की गई कामधेनु योजना कई करने के चलते पिता गई थी उसमे 50 लाख रूपए की मिनी डेरी फॉर्म और 25 लाख रूपए की माइक्रो डेरी फॉर्म खोलने का प्रावधान था जिससे की किसान अपनी डेरी खोल सके।

गोपालक डेयरी योजना बैंक ऋण

गोपालक डेयरी योजना के तहत आप को सरकार द्वारा बनाये गए प्रकोष्ठ से बैंक लोन देती है इसमें अलग अलग चरणों के हिसाब से अलग अलग किस्तों में लोन दिया जाता है इस योजना के तहत आप काम से काम 5 और अधिकतम 10 दुधारू जानवर पल सकते है उनमे गाय और भेस दोनों हो सकती है। इस पूरी योजना की कुचल लगत 9 लाख रूपए आंकी गई है इसमें सबसे पहले खर्च गोसला बनाने का है जिसका खर्च 1 लाख 80 हजार आका गया है की की आवेदन कर्ता को ही भुगतना होगा जैसे ही आप की गोसला बनती है बैंक दो किस्तों मेसे आप को पहली क़िस्त के पैसे देती है 3 लाख 60 हजार रूपए होती है। ये क़िस्त आप को प्रथम 5 पसुओ के लिए रहती है अगर आप 5 से अधिक पशु खरीदते है तो आप को एक दूसरी क़िस्त भी मिलती है जो भी 3 लाख 60 हजार रूपए की होती है। इस तरह बैंक आप को 7 लाख 20 हजार का कुल योगदान देती है और 1 लाख 80 हजार आप के द्वारा लगाए जाते है तो कुछ खर्च 9 लाख रूपए हो जाता है।

गोपालक डेयरी योजना ऋण वापसी और सब्सिडी

आपको लोन ली गई कुल राशि 7 लाख 20 हजार को 5 साल की आसान किस्तों में वापस करना होता है। आप की क़िस्त मासिक, त्रेमासिक या अर्धवार्षिक हो सकती है उत्तर प्रदेश सरकार आप के ऋण वापसी पर सब्सिडी भी प्रदान कर्ता है अगर आप पूरा ऋण (7 लाख 20 हजार) लेते है तो आप को 40 हजार प्रति वर्ष के हिसाब से सब्सिडी का लाभ मिलता है यानि पुरे 5 वर्षो में आप को 2 लाख रूपए की सब्सिडी मिल जाती है। अगर आप सिर्फ 5 पशुओ तक ही वहन करते है तब इस स्थिति में आप को सिर्फ एक क़िस्त यानि 3 लाख 60 हजार का ही ऋण मिलता है और इस स्थिति में आप को सब्सिडी में सिर्फ 20 हजार रूपए साल यानि कुछ मिला के 1 लाख रूपए सब्सिडी का लाभ मिलता है।

इसके साथ ही अगर आप नियमित क़िस्त का भुगतान करते है तो आप को 10 हजार अलग से प्रोत्साहन राशि भी प्राप्त होती है इस प्रकार आप को कुछ फायदा 2 लाख 50 हजार का होता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here