सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) से अपनी बेटी के भविष्य को करे सुरक्षित

Technology and Money advice

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) से अपनी बेटी के भविष्य को करे सुरक्षित

Suknya Samriddhi Yojna

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में आप सिर्फ 250 रूपए की मासिक क़िस्त पर अपनी बेटी का भविष्य सुरक्षित कर सकते है किसी भी बैंक या पोस्ट ऑफिस में जा कर सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) अकाउंट खुलवाए तथा अपनी बेटी की पढ़ाई तथा शादी में लगने वाले खर्च को जमा राशि से पूरा कर सकते है। यह योजना भारत सरकार की बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ योजना का एक हिस्सा है।

Suknya Samriddhi Yojna

भारत सरकार ने 10 साल से कम उम्र की बच्ची की उच्च शिक्षा और शादी के एक छोटी बचत योजना की शुरुवात की है जिसका नाम सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) है इसमें आप बहुत छोटी धन राशि जमा कर के बेटी के बड़े होने पर जमा राशि को उसकी शादी तथा उच्च शिक्षा में उपयोग कर सकते है। यह एक अच्छी बचत योजना हैं जिसमे आप टैक्स बेनिफिट्स भी ले सकते है।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में सिर्फ टैक्स बेनिफिट ही नहीं इसके आलावा इसमें बैंक FD से ज्यादा ब्याज दर के साथ ही अगर आप म्यूच्यूअल फण्ड और शेयर मार्केट के उतर चढ़ाव के जोखिम से बचना चाहते है तो ये योजना आप के लिए सबसे अच्छी योजना होगी।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) क्या है

सुकन्या समृद्धि योजना (एसएसवाई या SSY) एक छोटी बचत योजना है जो की मुख्यतः लड़कियों (गर्ल चाइल्ड) के लिए है। SSY का उद्देश्य बालिका शिक्षा और विवाह से जुड़ी एक बड़ी समस्या से निपटना है।

SSY का उद्देश्य भारत में बालिकाओं के माता-पिता को उनकी बालिका के समुचित शिक्षा और देखभाल मुक्त विवाह खर्च के लिए एक कोष बनाने की सुविधा प्रदान करके उनके भविष्य के लिए उज्ज्वल भविष्य हासिल करना है। SSY ने इस उद्देश्य के लिए सुकन्या समृद्धि खाता शुरू किया है।

इस योजना की शुरुआत 2016 में भारत सरकार द्वारा की गई। साल 2016 -17 में SSY में 9.1 फीसदी की दर से ब्याज दिया गया जो की किसी भी फिक्स्ड डिपाजिट स्कीम से ज्यादा है साथ ही इसमें इनकम टैक्स (Income Tax) छूट के साथ है। इससे पहले इसमें 9.2 फीसदी तक ब्याज भी मिला है।

यह योजना ऐसे परिवारों को ध्यान में रख कर शुरू की गई है जिनकी आर्थिक स्थिति उतनी मजबूत नहीं है जिस कारण वे अपनी बेटियों को उच्च शिक्षा तथा शादी में दिक्कत आती है जिस से ऐसे परिवार छोटी बचत कर के अपनी बेटी की उच्च शिक्षा और शादी में सहता होती है

कैसे खुलवाएं SSY खाता

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) अगर आप अकाउंट खुलवाना चाहते है तो ये जरुरी है की आप की बेटी की उम्र 10 साल से काम होनी चाहिए। इस योजना में आप कम से कम 250 रूपए से शुरू कर सकते है SSY के अकाउंट में जमा राशि की अधिकतम सीमा 1.5 लाख है जिस पर आप को इनकम टैक्स में छूट भी मिलेगी ।

कहाँ से खुलवा सकते है SSY खाता

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में अपना अकाउंट आप कोई भी नजदीकी सरकारी या प्राइवेट बैंक में खुलवा सकते है अगर आप के पास में कोई बैंक नहीं है तो आप नजदीकी पोस्ट ऑफिस में भी सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट खुलवा सकते है। अकाउंट खुलवाने की प्रकिया बहुत ही आसान है। आप को ब्रांच या पोस्ट ऑफिस में से एक फॉर्म ले कर भरना होगा उसके बाद जरुरी दस्तावेज के साथ जमा करवाना होगा।

SSY खाते से कब मिलेंगे पैसे

SSY खाता आप को आप की बेटी की उम्र 21 साल होने तक चलना होगा यदि आप अपनी बेटी की शादी 18 साल के बाद करना चाहते है तो आप जरुरी प्रक्रिया कर के 18 साल की उम्र में भी पुरे पैसे निकल सकते है साथ ही किसी स्पेशल पढ़ाई के मामले में भी 21 साल की उम्र से पहले भी पैसे निकल सकते है।

SSY खाता खोलने के नियम

SSY खाता किसी भी भारतीय लड़की का उसके माता-पिता या कानूनी अभिभावक द्वारा गर्ल चाइल्ड के नाम से उसके 10 साल की उम्र से पहले खोला जा सकता है। इस योजना के मुताबिक एक बच्ची के लिए एक ही खाता खोला जा सकता है और उसमें पैसा जमा किया जा सकता है। एक बच्ची के लिए दो खाते नहीं खोले जा सकते।

SSY अकाउंट में कितने रूपए जमा करना जरुरी है?

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) अकाउंट को खोलते वक्त कम से कम 250 रूपए जमा करवाना जरुरी है अकाउंट खोलने के बाद आप 100 के गुणक में कितने भी पैसे जमा करवा सकते है किसी भी वित्य वर्ष में कम से कम आप को 300 रूपए जमा करवाना जरुरी होता है किसी एक वित्त वर्ष में SSY खाते में एक बार या कई बार में 1.5 लाख रुपये से अधिक जमा नहीं कराया जा सकता।

SSY खाते में बच्ची के अभिभावक खाता खोलने के 15 साल तक बच्ची के लिए पैसे जमा करवा सकते है। अगर मान लो 8 साल की कोई बच्ची है तो उसके लिए 23 की उम्र तक पैसे जमा करवाना होंगे। उसे बाद यदि आप को पैसे नहीं निकलना है तो आप बच्ची की उम्र 30 होने तक पैसो को होल्ड पर रख सकते है 23 से 30 तक जमा राशि पर ब्याज मिलता रहेगा।

SSY के लिए जरूरी कागजात कौन से है?

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में खाता खोलते वक्त आप को एक फॉर्म भरकर देना होगा जो की आप जहा से अकाउंट खोल रहे है वह से मिलेगा इसके अलावा जिस बच्ची का आप अकॉउंट खोल रहे है

उसक जन्म प्रमाण पात्र, अभिभावक का परिचय पत्र जो की वोटर आईडी, आधार कार्ड, लाइसेंस हो सकता है साथ ही पते के लिए प्रूफ देना होगा।

SSY में रकम जमा नहीं हो पाई तब तो क्या होगा?

यदि आप ने अपनी बेटी का SSY में अकाउंट खुलवाया है और आप किसी वर्ष उसमे पैसे डालना भूल जाते है तो आप को पैसो के साथ 50 रूपए पेनल्टी के साथ जमा करवाने होंगे यदि एक वर्ष से ज्यादा वर्ष हो गए है तो आप को हर साल की मिनिमम भुक्तान राशि के साथ हर एक वर्ष की पेनल्टी अमाउंट जो की 50 रूपए है को चूका कर अकाउंट को रिवाइस करवाना होगा।

अगर आप पेनल्टी नहीं चूकते तो आप का SSY अकाउंट एक सेविंग अकाउंट की तरह हो जायेगा और इस पर सेविंग अकाउंट के बरार व्याज मिलेगा।

SSY खाते में रकम जमा कैसे करवा सकते है?

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) में आप राशि को अलग अलग प्रकार से जमा कर सकते है जैसा आप को सुविधा जनक हो जैसे की –

  • कैश के द्वारा
  • डिमांड ड्राफ्ट
  • इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसफर
  • चेक या ड्राफ्ट

उपरोक्त किसी भी माध्यम से अप्प SSY अकॉउंट मिराशी जमा करवा सकते है अगर आप कैश राशि जमा कर रहे है तो आप को जमा करने वाले का नाम और एकाउंट होल्डर के नाम की जानकारी होना चाहिए । अगर SSY खाते में रकम चेक या ड्राफ्ट से चुकाई गयी तो रकम खाते में क्लियर होने के बाद से उस पर ब्याज दिया जायेगा, जबकि ई-ट्रांसफर के मामले में डिपॉजिट के दिन से यह गणना की जाएगी

SSY खाते पर ब्याज की गणना कैसे होती है

ssy account calc

वित्य मंत्रालय हर तीन महीने में जी सेक यील्ड के अनुसार SSY की ब्याज दरों में बदलवाव किया जाता है। SSY खाते पर ब्याज दर जी-सेक रेट की तुलनात्मक मैच्योरिटी की तुलना में 75 बेसिस पॉइंट तक अधिक होता है।

 

क्रमांक वित्य वर्ष अगंतव वर्ष ब्याज दर बेस मूल्य अधिकतम राशि
1 2018-19 (Q4) 2019-20 (Q4) 8.5 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
2 2018-19 (Q3) 2019-20 (Q3) 8.5 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
3 2018-19 (Q2) 2019-20 (Q2) 8.1 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
4 2018-19 (Q1) 2019-20 (Q1) 8.1 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
5 2017-18 (Q4) 2018-19 (Q4) 8.1 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
6 2017-18 (Q3) 2018-19 (Q3) 8.3 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
7 2017-18 (Q2) 2018-19 (Q2) 8.3 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
8 2017-18 (Q1) 2018-18 (Q1) 8.4 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
9 2016-17 (Q4) 2017-18 (Q4) 8.5 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
10 2016-17 (Q2) 2017-18 (Q2) 8.6 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
11 2016-17 (Q1) 2017-18 (Q1) 8.6 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
12 2015-16 2016-17 9.2 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs
13 2014-15 2015-16 9.1 Rs 300 Rs 1.5 Lakhs

मैच्योरिटी से पहले किन करने में SSY खाता बंद किया जा सकता है?

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) को अलग अलग परिस्थिति में बैंक किया जा सकते है जैसे –
खाता धारक की मृत्यु हो जाने पर सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) को बंद किया जा सजता है इसके लिए आप को खाता धारक का मृत्यु प्रमाण पात्र लगाना होगा।

खाता धारक को जानलेवा बीमारी होने पर उसके इलाज के लिए भी खाते में से पुरे पैसे निकले जा सकते है बसर्ते बीमारी का प्रूफ दिया हो खाता धारक को पुरे पैसे ब्याज साहिल मिल जायेंगे।

आया परिस्थियों में भी पैसे निकलते जा सकते है अगर आप प्रीमियम नहीं भर रहे हो तो आप को बैंक सेविंग अकाउंट के बराबर ब्याज मिलेगा और आप खाते में से पैसे निकलने के लिए भी स्वतंत्र होंगे।

SSY अकाउंट ट्रांसफर कैसे कर सकते है?

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) खाता आप देश भर में कही भी ट्रांसफर करवा सकते है वो भी बिना किसी षुल्क के इसके लिए आप को बैंक या पोस्ट ऑफिस जहा आप का अकाउंट है में एक फॉर्म भरकर उसके साथ स्थान चेंज होने का प्रूफ लगा कर ये कर सकते है इसलिए लिए आप को कोई फीस भी नहीं चुकानी पड़ेगी।

अगर आप एड्रेस चेंज का प्रूफ देने में असमर्थ है तो आप को 100 रूपए चुकाने होंगे आप को एक फॉर्म भरवाया जायेगा एक एफिडेबिट लगेगा और आप का ने एड्रेस पर आप को खाता मिल जायेगा।

SSY खाते से पैसे कब निकल सकते है?

SSY अकाउंट से आंशिक निकासी मतलब जरुरत पड़ने पर आप कुल जमा राशि का 50% राशि को निकल सकते है पर ये आंशिक निकासी आप, आपकी बेटी की आयु 18 वर्ष होने पर ही निकल सकते है और विशेष परिस्थिति पर जैसे की उच्च शिक्षा के लिए ये शादी के लिए ।

उच्च शिक्षा के मामले में आप को उच्च शिक्षा संस्थान की फीस की स्लिप दिखाना जरुरी होगा और अगर आप बेटी की शादी कर रहे है तो आओ को शादी की पत्रिका लगाना होगी ये दूसरा कोई सबूत दिखाना होगा।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) की कुछ शर्तें

अगर खाताधारक की शादी खाता खोलने के 21 साल पूरे होने से पहले हो जाती है तो खाते में रकम जमा नहीं कराई जा सकती.

अगर आप मेचोरिटी से पहले ही खाता बंद करवाना चाहते है तो आप को एक एफ्फिडेविट बनवाना होगा जिसमे खाता बंद करने संबधित जानकारी हो और यर भी निश्चित हो की खाता धारक की उम्र 18 हो गई हो मैच्योरिटी के समय पासबुक और विथड्रावल स्लिप पेश करने आप जमा राशि तथा उस और प्राप्त व्याज को निकल सकते है।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) सिर्फ भारतीय लोगो के लिए है इसमें कोई अप्रवासी भारतीय या ऐसे कोई व्यक्ति जिसको किसी अन्य देश की नागरिकता मिल गई हो भाग नहीं ले सकते है। अगर जिस का खाता खोला गया है वो किसी अन्य देश में जा कर बस जाता है और वह की नागरिकता ले लेता है तो जमा धन राशि पर ब्याज मिलना बंद हो जायेगा।

सुकन्या समृद्धि योजना (SSY) जानकारी वित्त मंत्रालय और रिजर्व बैंक की वेबसाइट से ली गई है इसमें भविष्य में किसी भी प्रकार के परिवर्तन के लिए हम जिम्मेदार नहीं होंगे । चीजों को समझने योग्य बनाने के लिए उदाहरण का उपयोग किया गया है हर एक केस में है अलग हो सकता है।

 

Related post

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *