सुकन्या समृद्धि योजना
Advertisement

भारत सरकार ने 4 दिसंबर 2014 को भारत की बेटिओ के लिए एक योजना प्रारम्भ की जिसे हम सुकन्या समृद्धि योजना के नाम से जानते है अभी हाल ही में भारत सरकार ने एक और बड़ा निर्णय लेते हुए इसकी न्‍यूनतम जमा राशि को 1,000 रुपए से घटाकर 250 रुपए कर दिया है। अब आप सुकन्या समृद्धि योजना 250 रुपए से भी इस योजना में भाग ले सकते है।

सुकन्या समृद्धि योजना

इसमें कोई भी बालिका के माता-पिता या संरक्षक बेटी के नाम से से इस योजना के अंतर्गत खता खोल के अपनी बेटी के लिए पैसे जमा कर सकते है जो की आप को उसकी सादी या उच्च पढ़ाई में काम आएगी।

Inline Advertisement

इस योजना के बहुत से बिंदु है जो आप को जानना जरुरी है सुकन्या समृद्धि योजना में खता खुलवाने से पहले। ताकि आप समझ सकें कि सुकन्या समृद्धि योजना में कैसे निवेश कर सकते हैं और इस योजना के क्या लाभ और क्या नुकसान हैं।साथ ही आप को ये भी बताएँगे की आप सुकन्या समृद्धि योजना का खाता SBI बैंक में कैसे खुलवा सकते है।

सुकन्‍या समृद्धि योजना के खाते की जानकारी

सुकन्‍या समृद्धि योजना एक छोटी बचत योजना है मोदी सरकार द्वारा इस योजना की ब्याज दर बढ़ाने के बाद इसकी ब्याज दर 8.5% हो गई है। इस योजना के तहत आप अपनी दो बेटियों का एक एक खता खोल सकते है अर्थात आप एक बेटी का एक और अधिकतम 2 बेटियों का खता खोल सकते है पर अगर आप की जुड़वाँ बेटिया हुई है तो आप जन्म प्रमाणपत्र लगा के 3 खाते भी खोल जा सकते है। यह इस योजना की पहली शर्त है इसके अलावा बेटी की उम्र 0 वर्ष से 10 वर्ष के बीच में होना आवश्यक है।

खाता संचालन कौन होगा

जब तक बालिका 10 वर्ष से छोटी है तब तक उसके खाते का संचालन माता पिता या किसी गार्डियन द्वारा किया जाता है 10 वर्ष की आयु के बाद खुद खता धारक भी अपने खाते का संचालन कर सकती है। इसके अलावा आप सुकन्या समृद्धि योजना का अकाउंट पोस्‍ट ऑफिस ब्रांच और सरकारी बैंक में भी खुलवा सकते है ।

खाता खोलने के लिए आवश्यक राशि

सुकन्‍या समृद्धि का एक खाता 1000 रुपए में शुरुआती जमा राशि पर खोला जा सकता है। इससे पहले इस खाते में प्रति वर्ष 1000 रुपए न्‍यूनतम जमा राशि जमा करनी होती थी जो अब सिर्फ 250 रुपए है। एक वित्तीय वर्ष में इस खाते में न्यूनतम 250 रुपए और अधिकतम 1 लाख 50 हजार रुपए जमा किया जा सकेगा। यह पैसा अकाउंट खुलने के 14 साल तक ही जमा करवाना होगा।

सुकन्‍या समृद्धि योजना राशि निकाशी की शर्तें

सुकन्‍या समृद्धि योजना की राशि का 50% आप बेटी के 18 वर्ष होने पर निकल सकते है बाकि का पैसा आप पालिसी के मेच्योर होने पर निकल सकते है पालिसी मेच्योर खता खोलने के 21 वर्ष बाद होगी। तब आप पुरे पैसे निकल सकते है। अगर बालिका की किसी कारणवस मृत्यु हो जाती है तो आप को खाते में जमा पूर्ण राशि मिल जाएगी। अगर बालिका की शादी भी हो जाये तब भी खता क्लोज हो जायेगा और आप पूरी राशि निकल सकते है।

आयकर में लाभ

सुकन्या समृद्धि योजना का खाता देश के किसी भी हिस्से में ट्रांसफर कराया जा सकता है। सुकन्या समृद्धि योजना के तहत खुलने वाले खातों को टैक्स से छूट मिलेगी। इस योजना के तहत खुलने वाले खातों को आयकर कानून की धारा 80-जी के तहत छूट दी जाएगी।

अगर आप किसी वर्ष सुकन्या समृद्धि योजना खाते में प्यासे डालना भूल जाते है तो आप को 50 रुपए प्रति वर्ष के हिसाब से जुर्माना देना होगा अगर आप एक से ज्यादा वर्ष तक खाते में पैसे नहीं डालते है तो हर एक वर्ष के लिए आप को 50 रूपए लगेंगे। अगर आप 3 वर्ष से ज्यादा खाते में पैसा नहीं डालते है तो आप की सेविंग अकाउंट के बराबर ब्याज मिलगा और ये तब तक मिलता रहेगा तब तक आप सुर्माने की राशि के साथ सेष रही जमा नहीं करवा देते।

SBI में सुकन्या समृद्धि योजना का खाता कैसे खोलें

SBI भारत का सबसे बड़ा सरकारी बैंक है इसलिए सभी उस पर भरोसा करते है इसलिए हम बतायंगे की आप कैसे SBI में सुकन्या समृद्धि योजना का खाता खुलवा सकते है साथ ही ये बताएँगे की SBI में आप को खता खुलवाने के लिए कौन से दस्तावेज लगेंगे।

आप दो तरह से SBI में सुकन्या समृद्धि का खाता खुलवाने के विषय में इनफार्मेशन प्राप्त कर सकते हैं। प्रथम कि आप अपने पास की स्टेट SBI की शाखा में जाएं और वहां बैंक मैनेजर से सुकन्या समृद्धि योजना जानकारी मांगे। बैंक मैनेजर आपको इस योजना के विषय में हर बात बताएंगे। दूसरा तरीका है कि आप इंटरनेट के माध्यम से स्टेट बैंक ऑफ इंडिया की वेबसाइट पर जाएं और सुकन्या समृद्धि योजना के बारे में ऑनलाइन जानकारी प्राप्त करें।

खाता खोलने के लिए जरूरी दस्तावेज

  • बेटी का जन्म का प्रमाण पत्र
  • माता-पिता का फोटो पहचान पत्र
  • अड्रेस प्रूफ बच्चे और माता पिता की तस्वीर

खाता खोलने लिए आप को एक फॉर्म भरना होगा जो की आप को अपनी नजदीकी SBI बैंक शाखा से मिलेगा या फिर नजदीकी पोस्ट ऑफिस से भी आप फॉर्म ले सकते है इसके बाद आप सभी दस्तावेज के साथ फॉर्म और 1000 रूपए जमा करना होगा ।अकाउंट या खाता खुलने के बाद आप पैसे चेक या डिमांड ड्राफ्ट के द्वारा भी जमा कर सकते हैं।

 

 

Bottom Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here