रामदेव बाबा ने गांजे(Marijuana) को लीगल करने की मांग की – पतंजलि

Technology and Money advice

रामदेव बाबा ने गांजे(Marijuana) को लीगल करने की मांग की – पतंजलि

पतंजलि (Patanjali) के सीईओ आचार्य बालकृष्ण ने हालिया साक्षात्कार में,भारत में गांजे (Marijuanaके वैधीकरण के लिए कहा। बालकृष्ण ने क्वार्ट्ज के साथ अपने साक्षात्कार में कहा हमें Cannabis (गांजे का पौधा) संयंत्र के लाभ और सकारात्मक उपयोगों पर विचार करना चाहिए आयुर्वेद में, प्राचीन काल से, कैनबिस के कुछ हिस्सों उदाहरण के लिए भांग का औषधीय प्रयोजनों के लिए उपयोग किया गया है|

गांजा (Marijuana )भारत में क्यों बेन है?



1961 में अमरीका ने UN की समिट में गांजे को ये कहते हुए बेन करने का प्रस्ताव रखा की ये एक प्रकार का सिंथैटिक ड्रग है और इसका असर भी कोकेन और हेरोइन ड्रक्स की तरह होता है | और UN द्वारा ऐसे बेन कर दिया गया भारत से भी ऐसे बेन करने को कहा गया पर उस समय भारत की तत्कालीन सरकार ने ऐसे बेन करने से मन कर दिया फिर बाद में 1985 में अमरीका ने तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गाँधी पर दवाब दाल कर ऐसे इंडिया में बेन करवा दिया|

एकबार फिर अन्ना हजारे शुरू करेंगे आंदोलन

क्या गांजा(Marijuana ) स्वास्थ के लिए हानिकारक है ?

अथर्वेद में गांजे को एक मात्र पृथ्वी पर उपलब्थ पौधा पटाया है जो की मानसिक शांति और खुसी का कुञ्ज बताया है और भी कई वेदो में इसका वर्णन है अमेरिका के खुद के 38 स्टेटस में ऐसे लीगल करवाया है और फोर्ब के एक सर्वे में ये बताया गया की जहा पर ये लीगल है वह पर दारू और सिगरेट की खपत 10 % काम है|

अमरीका के ही एक रीसर्च ने ये बताया की गांजा (Marijuana ) शरीर के किसी भी अंग के ख़राब नहीं करता है जबकि सिगरेट दारू, गांजे से 140 गुना ज्यादा हानिकारक है|बल्कि जिन देशो में ये लीगल है वहा का ग्रॉस हैप्पीनेस इंडेक्स (happiness index) भारत से कही ज्यादा है अमरीका सहित ये 40 देशो में लीगल है |साथ ही इसके दूसरे फायदे भी देखे गए जैसे की जहा भी ये लीगल है वहा पेन किलर का उपयोग घटा है |

3 रुपये में मिल रहा है 1GB 4G डाटा, कॉलिंग भी मुफ्त|

गांजा और भी कई बीमारियों में फायदा करता है तथा इस से इन रोगो की की दवाइया बनाई जाती है जैसे –

  • Gastric
  • Appetites
  • मोटापा
  • Diabetes(शुगर)
  • Diarrhoea
  • Jaundic
  • Pain Killer
  • गुप्त रोग

और साथ ही कई जगह इस कैंसर तक के इलाज में उपयोग किया जा रहा है|

फ़ोर्ब्स के एक सर्वे के अनुसार अमरीका में हेम्प (गांजा) इंड्रस्ट्रीज 2020 तक तीन लाख करोड़ का व्यवासय करेगी साथ ही 2020 तक अमेरिका में ये सब से ज्यादा नौकरी जेनरेट करने वाली इंड्रस्ट्री बन जाएगी | भारत में सिर्फ उत्तराखंड में ही बहुत ही काम मात्रा में इसका उत्पादन के लिए लाइसेंस दिए गए है |

 

 

Related post

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *