पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट इंटरेस्ट रेट्स | Post Office Fixed Deposit Interest Rates 2019

Technology and Money advice

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट इंटरेस्ट रेट्स | Post Office Fixed Deposit Interest Rates 2019

Post Office Fixed Deposit Interest Rates 2019

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट इंटरेस्ट रेट्स Post Office Fixed Deposit Interest Rates in hindi 2019 – 2020 – पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट इंटरेस्ट रेट्स या बैंक में होने वाला फिक्स डिपॉजिट के रेट्स को भारत सरकार के अधिनित कार्यरत भारतीय रिज़र्व बैंक ऑफ़ इंडिया द्वारा निर्धारित किया जाता है। पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट भी बैंक के फिक्स डिपॉजिट की तरह होता है। इसमें आप को एक निश्चित समय अवधि के लिए आप अपनी निश्चित रकम को डिपॉजिट करना होता है जिस पर की आप को उस समय अवधि के लिए व्याज (इंटरेस्ट रेट्स) मिलता है। इस प्रकार के डिपॉजिट को पोस्ट ऑफिस टाइम डिपॉजिट अकाउंट (टीडी) के रूप में भी जाना जाता है। पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट इंटरेस्ट रेट्स अलग अलग समय अवधि के लिए अलग अलग होते है जो की एक वर्ष से ले कर 5 वर्ष तक होते है।

Post Office Fixed Deposit Interest Rates 2019

इंडिया पोस्ट द्वारा दी जाने वाली ब्याज दरें भारत में सावधि जमा के लिए दी जाने वाली उच्चतम दरों में से हैं। इस योजना के तहत इन्हें सावधी ब्याज तिमाही रूप से दिया जाता है। जमाकर्ताओं को इन एफडी में न्यूनतम 200 रुपये जमा करने होते हैं जबकि इस योजना के तहत कोई अधिकतम सीमा नहीं है। इन सीमाओं के बीच किए गए जमा केवल 200 रुपये के गुणकों में होने चाहिए।

समय जमा कार्यकालब्याज दर (इंटरेस्ट रेट्स % में)
1 साल6.90%
2 साल7.00%
3 साल7.20%
5 वर्ष7.30%

Note:- ऊपर दिखाई गई ब्याज दर 1 जनवरी 2018 से लागू है। डाकघर में सावधि जमा दरें परिवर्तनशील हैं और समय-समय पर बदलती रहती हैं। इसलिए, खाता खोलने से पहले वर्तमान डाकघर सावधि जमा ब्याज दर की जांच करना सुनिश्चित करें।

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट ऐसे खोले

इंडियन पोस्ट ऑफिस दुनिया में 1 लाख 50 हजार ब्रांच के साथ सबसे बड़ा है अगर आप को पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट खोलना है तो आप अपनी नजदीकी पोस्ट ऑफिस शाखा में जा कर इसके लिए आवेदन कर सकते है और अपनाफिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट खोल सकते है। भारत सरकार द्वारा सभी इंडियन पोस्ट ऑफिस को इंडियन पोस्ट पेमेंट बैंक के रूम में भी डेवेलोप किया जा रहा है इसके की अब पोस्ट ऑफिस में बैंकिंग प्रॉसेस पहले से और बेहतर हो गई है।

  • निकटतम डाकघर में जाकर खाता खोलने का फॉर्म ले कर उसे पूर्ण रूप से भरे
  • दो पासपोर्ट साइज फोटो।
  • फोटो आईडी प्रमाण – आप पासपोर्ट, ड्राइविंग लाइसेंस, चुनाव कार्ड या आधार कार्ड जमा कर सकते हैं।
  • एड्रेस प्रूफ – आप पते के साथ पासपोर्ट, टेलीफोन बिल, बिजली बिल या सैलरी स्लिप जमा कर सकते हैं।
  • उल्लिखित दस्तावेज की फोटोकॉपी स्व-सत्यापित होनी चाहिए। यदि किसी एजेंट के माध्यम से खाता खोला जाता है, तो दस्तावेजों पर एक एजेंट के आत्म-आश्वासन की आवश्यकता होती है।

पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट की विशेषता

  1. समय जमा खातों में जमा राशि को आप 1 वर्ष से 5 वर्ष जमा कर सकते है।
  2. जमाकर्ता किसी भी डाकघर में कितने भी एफडी खाते खोल सकते हैं।
  3. पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट अकाउंट खोलने के लिए आप की उम्र काम से काम 10 वर्ष या उस से अधिक होना चाहिए।
  4. अगर खता धारक नाबालिक है तो उस खाते का प्रबधन उस के गार्डियन द्वारा किया जायेगा।
  5. नाबालिगों को 18 वर्ष की उम्र हो जाने के बाद खाते को अपने नाम में परिवर्तित करने के लिए आवेदन करना होगा।
  6. जमाकर्ताओं द्वारा खाते भी जोड़े जा सकते हैं जिसमें खाते में दो वयस्क खाताधारक होने चाहिए।
  7. जमाकर्ता इन खातों को एकल से संयुक्त और इसके विपरीत में आसानी से परिवर्तित कर सकते हैं।
  8. टाइम डिपॉजिट खाता खोलने के लिए आवश्यक न्यूनतम राशि 200 के गुणक में होना चाहिए।
  9. टीडी योजनाओं के तहत निवेश की जाने वाली राशि पर कोई अधिकतम सीमा नहीं है।
  10. पांच साल के कार्यकाल के लिए किए गए जमा , भारतीय आयकर अधिनियम, 1961 की धारा 80 सी के तहत कर लाभ के लिए पात्र हैं ।
  11. पोस्ट ऑफिस फिक्स्ड डिपॉजिट खातों को एक डाकघर से दूसरे में स्थानांतरित किया जा सकता है।
  12. टीडी खातों की संख्या पर कोई सीमा नहीं है जो एक जमाकर्ता खोल सकता है।
  13. परिपक्वता पर, टीडी खाता उसी अवधि तक स्वतः नवीनीकृत हो जाता है जिसके लिए इसे खोला गया था। लागू ब्याज दर परिपक्वता के दिन डाकघर द्वारा दी जाने वाली दर होगी।
  14. एनआरआई निवेशक भारत में पोस्ट टाइम डिपॉजिट स्कीमों में पैसा जमा नहीं कर सकते हैं।
  15. खाता खोलने के समय नामांकन किया जा सकता है। हालांकि, यदि नामांकन पहले नहीं किया गया है, तो जमाकर्ता खाता खोलने के बाद भी एक नॉमिनी नियुक्त कर सकता है।
  16. खाता नकद और चेक दोनों द्वारा खोला जा सकता है। चेक जमा के मामले में, सरकार के खाते में चेक की प्राप्ति की तारीख टीडी खोलने की तारीख होनी चाहिए।
Related post

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *