kisan-samman-nidhi
Advertisement

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत भारत सरकार ने अपना वादा पूरा करते हुए 2.5 करोड़ से अधिक किसानो के अकाउंट में 2000 की पहली क़िस्त दाल दी है भारत सरकार ने कुल 5,215 करोड़ रुपये किसानो को दिए है। प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना सीमांत किसानो के लिए भारत सरकार द्वारा चालू की गई योजना है जिसमे सरकार प्रत्येक वर्ष छोटे व सीमांत किसानो को 6000 रूपए सालाना प्रदान करेगी जिससे छोटे किसानो को एक आर्थिक सहायता मिल सके।

kisan-samman-nidhi

आम चुनावो से पहले अपने अंतरिम बजट में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना की घोषणा की थी इसका कुल खर्च 75000 करोड़ रूपए आका गया जिस के तहत 12 करोड़ सीमांत और छोटे किसानो को फायदा मिलेगा तथा पहली किस के लिए सरकार ने 20,000 करोड़ रूपए आवंटित किये। इस योजना की आधिकारिक शुरुआत 24 फरवरी को गोरखपुर में की थी।

Inline Advertisement

PM किसान सम्मान निधि: जारी हुआ हेल्प लाइन नंबर – पैसा न मिले तो कॉल करे

रविवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने एक ट्वीट कर के पहली क़िस्त दिए जाने के बारे में जानकारी दी ट्वीट में सरकार ने जानकारी दी की 37 दिन के भीतर 2.6 करोड़ से अधिक छोटे एवं सीमांत किसानों को इस योजना का लाभ मिल चूका है पश्चिम बंगाल और कई कांग्रेस शासित राज्य पीएम किसान योजना के लिए नाम नहीं भेज रहे हैं। इस कारन इस प्रदेशो के तहत पहली किस यहाँ के किसानो को नहीं मिल पाई। इसके साथ ही सरकार ने ये भी बताया की इसकी दूसरी क़िस्त अगस्त महा में नई सरकार द्वारा दी जाएगी।

सीमांत किसान की परभाषा

प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के तहत छोटे तथा सीमांत किसानो को ये योजना में लाभ दिया जायेगा इसके लिए छोटे तथा सीमांत किसानो को परिभाषित किया है इसके तहत 1 फ़रवरी से पहले जिन किसानो को पूरी जोट 2 हेक्टर यानि 5 एकड़ से काम है उन्हें इस योजना का लाभ दिया जायेगा। अगर कोई बाद में अपनी जमीं किसी के नाम या नहीं जमीन (कृषि भूमि) खरीदता है तो वो इस योजना का लाभ नहीं ले पायेगा उसको इसके लिए 3 साल रुकना पड़ेगा। तब ही उन्हें प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना का लाभ मिल पायेगा।

Bottom Advertisement

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here