Google Tez से अब कर पाएंगे बिजली, DTH , पानी , पोस्ट पेड का bill payment

Technology and Money advice

Google Tez से अब कर पाएंगे बिजली, DTH , पानी , पोस्ट पेड का bill payment

google tez bill payment



Google ने अपने UPI पेमेंट application Google Tez में एक और नया फीचर जोड़ते हुए इसमें bill payment की सुविधा भी जोड़ दी है| अब इसके यूजर Google Tez application के द्वारा पैसे ट्रांसफर के अलावा electricity, DHT, पानी तथा post paid मोबाइल बिल का भी भुक्तान कर पाएंगे साथ ही इंश्योरेंस के प्रीमियम को भी सपोर्ट करेगा | इसका ये फीचर गूगल तेज़ के नए अपडेट application एंड्राइड तथा IOS दोनों के लिए उपलब्ध होगा |

Google tez bill payment

अब गूगल का मुकाबला सीधे PayTm तथा mobiwik जैसे mobile wallet प्रदाता कम्पनी से होगा जो की ये सुविधा काफी पहले से प्रदान कर रही है इस कारन हम उम्मीद करते है की इसके यूजर को कई ऑफर भी मिलेंगे |
इस फीचर की घोषणा Google ने पिछले साल के दिसम्बर महीने में ही कर दी थी | गूगल ने इसके लिए 70 कम्पनीओ से अनुबंद किया है | इसमें मुख्यतः एसीटी, एयरटेल, डिशटीवी, डोकोमी, एमटीएनएल और टाटा पावर|

अमेज़न पर अपना सामान कैसे बेचे

Google Tez में bill payment कैसे करे ?

Google Tez में bill payment करने के लिए आप को इसमें payment सेक्शन में जाकर सिलेक्ट पेमेंट पर क्लिक करना होगा. यहां अकाउंट बनाने के बाद ऐप आपके बिल का ब्यौरा वेरिफाई करेगा और सारी जानकारी दे देगा।बिल भरने के लिए फिर आपको अपना बैंक खाता इसमें जोड़ना होगा। बाद में यूपीआई पिन का इस्तेमाल करते हुए बिल का पेमेंट हो जाएगा।
इसके अलावा Google Tez के यूजर अपनी चालू बिल का ब्यौरा भी देख पाएंगे. साथ ही अपने पुराने भुक्तान किये गए bill का ब्यौरा तथा बकाया बिल का ब्यौरा भी देख पाएंगे |
ये फीचर Google Tez के 8.0 वर्शन तथा IOS V8.0 वर्शन पर उपलब्ध्या रहेगा| जिसे आप एंड्राइड के लिए प्ले स्टोर से तथा IOS के लिए App स्टोर से डाउनलोड कर सकते है |



अभी तक गूगल ले Google Tez application को भारत में १ करोड़ २० लाख से ज्यादा यूजर जोड़ चूका है | तथा 14 करोड़ से ज्यादा ट्रांसेक्शन में उपयोग आ चूका है | गूगल ने Google Tez को नोट बंदी के बाद भारत के लोगो को ध्यान में रख कर ही बनाया है ये भारत की 7 छेत्रिय भाषा हिंदी, बंगाली, गुजराती, कन्नड़, मराठी, तमिल और तेलुगू में उपलब्ध है जिस से की भारत के अधिक से अधिक लोग इसका उपयोग कर सके |

Related post

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *