IMPS और NEFT में क्या अंतर होता है और कौन है बेहतर जाने

0
340
Difference-Between-NEFT-RTGS-in-hindi

आने वाले समय में दिन प्रति दिन ऑनलाइन ट्रांसेक्शन की संख्या बढ़ती जा रही है आप रूपए को प्लास्टिक मनी और डिजिटल मनी के रम में जाना जा रहा है आज के समय में NEFT और IMPS जैसी ऑनलाइन बैंकिंग सुविधायो के लोग आदि हो चुके है आज के समय में UPI लोगो की जरुरत बन गई है जहा पहले NEFT बैंक के काम काजी समय यानि सुबह 10 से शाम 7 बजे तक ही चलता था वही बैंक ने आप पुरे समय के लिए ये सुविधा की सुरुवात कर दी है अब आप किसी भी समय NEFT की सुविधा ले सकते है।

अब ग्राहक के लिए ये चुनना मुश्किल हो गया है की वो ऑनलाइन मनी ट्रांसफर करते समय NEFT सुविधा का चुनाव करे या फिर IMPS क्यों की दोनों देखने में एक जैसी ही प्रतीत होती है तो आइये जानते है NEFT और IMPS में क्या अंतर होता है और आप के लिए दोनों में से कौन है बेहतर।

IMPS क्या है

Immediate Payment Service (IMPS) एक है इलेक्ट्रॉनिक फण्ड ट्रांसफर सर्विस है जो की मोबाइल फोन के माध्यम से एक बैंक से दूसरे बैंक में फण्ड ट्रांसफर की सुविधा प्रदान करता है। NEFT और RTGS के विपरीत यह सेवा बैंक की छुट्टियों सहित पूरे वर्ष में 24×7 घंटे उपलब्ध रहती है।

इसका सञ्चालन नेशनल पेमेंट्स कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (NPCI) द्वारा किया जाता है और इसे मौजूदा राष्ट्रीय वित्तीय स्विच नेटवर्क पर बनाया गया है । 2010 में NPCI ने शुरुआत में 4 सदस्य बैंकों ( स्टेट बैंक ऑफ इंडिया , बैंक ऑफ इंडिया , यूनियन बैंक ऑफ इंडिया और ICICI बैंक ) के साथ मोबाइल भुगतान प्रणाली के लिए एक पायलट प्रोजेक्ट के रूप में किया गया था बाद में यस बैंक , एक्सिस बैंक और एचडीएफसी को शामिल कर के इसका विस्तार किया गया । IMPS को सार्वजनिक रूप से 22 नवंबर, 2010 को लॉन्च किया गया था। वर्तमान में 53 वाणिज्यिक बैंक, 101 ग्रामीण / जिला / शहरी और सहकारी बैंक हैं, और 24 PPIi IMPS सेवा के लिए साइन अप हैं।

NEFT क्या है

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) द्वारा संचालित नेशनल इलेक्ट्रॉनिक फंड्स ट्रांसफर (NEFT) एक इलेक्ट्रॉनिक फंड ट्रांसफर सिस्टम है इसकी सुरुवात नवंबर 2005 में की गई थी जिस से की लोग इसके माध्यम से ेलेक्टॉनिकाली फण्ड ट्रांसफर कर सके। इंस्टीट्यूट फॉर डेवलपमेंट एंड रिसर्च इन बैंकिंग टेक्नोलॉजी (IDRBT) इस सिस्टम को डिज़ाइन किया गया। एनईएफटी (NEFT) में बैंक ग्राहक किसी भी दो बैंक जिसमे NEFT सुविधा उपलब्ध हो में पैसे ट्रांसफर कर सकते है।

NEFT और IMPS में क्या अंतर है –

NEFT भी अब IMPS की तरह 24 घंटे सातो दिनों के लिए उपलब्ध हो गया है अब आप कभी भी किसी को भी आसानी से पैसे हस्तांतरित कर सकते है वो भी बिना किसी परेशानी के पर आप को IMPS और NEFT में से कौन सी सुविधा का चुनाव करना चाहिए अगर हम बात करे स्पीड की तो IMPS की गति तेज़ है जैसा की इसके नाम से पता चलता है इमीडियेट पेमेंट सर्विस ये एक तत्कात हस्तान्तर सुविधा है जिसमे आप कुछ ही देर में पैसे ट्रांसफर कर सकते है जबकि NEFT में आप को पैसे ट्रांसफर करने के लिए कुछ समय लगता है क्यों की NEFT में पहले आप को अकाउंट ऐड करना होता है फिर अकाउंट वारीफिकेशन में आप को कुछ समय देना होता है जो की आधे घंटे से एक घंटे के बीच होता है इसके बाद आप पैसे ट्रांसफर कर सकते है जबकि IMPS में ऐसा नहीं है ये MMID (मोबाइल मनी आइडेंटिफ़ायर) पर काम करता है जैसे की UPI करती है आप अपने मोबाइल फ़ोन से आसानी से किसी के भी अकाउंट में पैसे ट्रांसफर कर सकते है

साथ ही बात करे ट्रांसफर अमाउंट की तो IMPS में आप 2 लाख से ज्यादा का अमाउंट ट्रांसफर नहीं कर सकते है जबकि NEFT में ट्रांसफर अमाउंट की कोई सीमा नहीं है आप कितना भी अमाउंट इसमें ट्रांसफर कर सकते है साथ साथ अगर आप UPI आधारित IMPS कर रहे है तो आप की प्रति दिन की सीमा 20 हजार रूपए ही होती है।

अगर हम बात करे इस पर लगने वाले चार्जेज की तो 1 जनवरी 2020 से NEFT पर किसी भी प्रकार का चार्ज नहीं लगता है जबकि IMPS में आप को कुछ चार्ज देय होता है

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here