Airtel india ने भारत में सुरु की अपनी 5G सर्विस

0
2
airtel-5g-services
airtel-5g-services



4G के धमाके के बाद अब कम्पनिया 5G की तैयारी में जुट गई है भारती Airtel ने इसकी अगवाई करते हुए सब से पहले भारत में इसकी नीव राखी | हाल में ITU ने इसके ​लिए स्टैंडर्ड सेट कर दिया है। ITU द्वारा 5जी मानक तय करने के बाद विश्व स्तर पर इसकी कोशिशें तेज हो गई है। आज Airtel 5जी सर्विस के ट्रायल की घोषणा कर दी है। कंपनी ने इसके लिए चीनी वेंडर हुआवई के साथ समझौता किया है। Airtel ने हुआवई के साथ मिलकर गुड़गांव मानेसर में भारत का पहला 5जी एक्सपीरियंस सेंटर स्थापित किया है।

airtel-5g-services
airtel-5g-services

अभी ये यूनिट सिर्फ परिक्षण के तौर पर है लेकिन भारत में 5G की शुरुआत तो कपंनी ने कर ही दी है। एक प्रेस विज्ञप्ति जारी कर कंपनी ने बताया कि 5जी Rain Operation की शुरुआत भारत में 3.5गीगाहट्रर्ज बैंड और 5G कोर व 50जीई नेटवर्क स्लासिंग राउटर पर किया। इस दौरान कंपनी अधिकतम 3जीबीपीएस तक की डाटा स्पीड पाने में सफल रही।

रिलायंस जियो फुटबॉल ऑफर देगा तुरंत 2200 का कैशबैक
म्यूचुअल फंड क्या है – What is a Mutual Fund in hindi

5जी की इस सेटअप में हाई स्पीड डाटा को प्रदर्शित किया गया जो IOT, AR और VR जैसी सर्विस को आसानी से प्रदान करने में सक्षम है। इस बारे में डायरेक्टर नेटवर्क्स भरती Airtel , अभय सवारगांवकर का कहना है कि 5G के लिए एक छोटा लेकिन बेहद ही महत्वपूर्ण कदम है। 5जी नेटवर्क आने के बाद ​काम करने और रहन सहन के तरीके में काफी बदलाव आने वाला है।



गौरतबल है कि आल में ही 3जीपीपी ने विश्व भर में 5G नेटवर्क के लिए लोगो सहित टावर्स और स्मार्टफोन के मानकों का निर्धारण कर दिया था। इसके बाद से आशा की जा रही थी कि 2019 तक 5G नेटवर्क की शुरुआत हो जाएगा। मानक तय करने के बाद विश्व भर के आॅपरेटर्स इसके लिए नेटवर्क और रेडियो इंजीनियर इस पर कार्य कर सकेंगे। 3जीपीपी द्वारा 5G के लिए मानक तय किए जाने के बाद कई बड़ी दिग्गज कंपनियों ने जल्द ही इस पर कार्य करने के लिए प्रतिबद्धता जताई थी। इसमें नोकिया, सैमसंग, क्वालकॉम, सोनी, एरिक्सन, वोडाफोन, एटीएंडटी, डोकोमो, एसके टेलीकॉम, चाइना मोबाइल, इंटेल, जेडटीई, हुआवई, स्प्रिंट और वेरियाइजन तक शामिल हैं।

वही उम्मीद है की JIO भी जल्द ही अपनी 5G सर्विस की घोषणा करेगा जैसा की Jio सर्विसेज पहले ही बता चुकी है की उनका नेटवर्क पहले ही 5जी इनेबल है उन्हें इसके लिए अलग से कोई हार्डवेयर लगाने की जरुरत नहीं है अब ये देखना मजेदार होगा की इंडिया में पहली पब्लिक 5G प्रदाता कम्पनी कौन सी होगी|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here